एक कोशिश भी नहीं की उसने मुझे रोकने की , शायद उसे मेरे चले जाने का ही इंतज़ार था 😟💔😢

जान तो उस वक़्त निकलती है जब अपना प्यार किसी और का जिक्र अपनी बातों में करता रहे 💔

तेरे सिवा मुझे सिर्फ नींद से ही प्यार था.. कमबख्त वो भी बेवफा हो गई तेरे साथ 😢 💔

किसी ने पूछा इतना अच्छा कैसे लिख लेते हो , मैंने कहा दिल तोड़ना पड़ता है , लफ़्ज़ों को जोड़ने से पहले 💔💔

मुझे नहीं चाहिए अपनी वफाओं का सिला, बस दर्द देते जाओ, मोहब्बत बढ़ती जाएगी

सब कुछ ख़त्म कर दिया मैंने तेरे प्यार में, बस ये आँसू ही है जो खत्म होने का नाम ही नहीं लेते 😢😢

जब भी मुझे एहसास हुआ कि मैं तेरे लिए ख़ास हूँ, तेरी बेरुखी ने बता दिया कि मैं झूठी आस में हूँ 😟😟

जब भी मुझे एहसास हुआ कि मैं तेरे लिए ख़ास हूँ, तेरी बेरुखी ने बता दिया कि मैं झूठी आस में हूँ 😟😟

तेरे हर दर्द से वाकिफ था मैं, फिर क्यों तुझे मेरे दर्द का एहसास नहीं हुआ 😟😟

इतना तो मैं समझ गयी थी उसको, वो जा रहा था और मैं हैरान भी ना थी 😟💔😟💔

Joke And Shayari app

Evening 12
Evening 11
Evening 10
Evening 9