संता: आज इतनी ठंड क्यों है?

बंता: सूरज नही निकला ना



संता: क्यों नही निकला?

बंता:

उसकी मम्मी ने नही निकलने दिया।

बोली कि ठंड में कहाँ जायेगा, पड़ा रह कम्बल में, फालतू की आवारागर्दी करेगा।
मुर्गियों के फार्म में एक बार निरीक्षण के लिए इंस्पेक्टर आया। इंस्पेक्टर :- तुम मुर्गियों को क्या खिलाते हो…? पहला आदमी :-सर बाजरा खिलाता हूं। इंस्पेक्टर:-इतनी गर्मी में बाजरा, इसे गिरफ्तार कर लो। और तुम क्या खिलाते हो? दूसरा आदमी :- सर चावल खिलाता हूं। इंस्पेक्टर:- गलत खाना इसे भी गिरफ्तार कर लो। इंस्पेक्टर संता से, “तुम मुर्गियों को क्या खिलाते हो” ये सब देखकर संता बहुत डर गया था वह डरते-डरते बोला :- “साहब हम तो मुर्गियों को 5-5 रुपए दे देते हैं, जो तुम्हारी मर्जी है जाकर खा लो” ..open
दीवार पर लिखा था “यहां कुत्ते सुसु करते हैं!” संता ने वहां सुसु किया और फिर हंस कर बोला: ‘इसे कहते हैं दिमाग.. सुसु मैंने किया और नाम कुत्ते का आएगा.’ ..open
एक बार संता अपनी बीवी के साथ ट्रेन मे सफर कर रहा था । अचानक संता की बीवी को सर्दी लगने लगी तो उसने संता से खिडकी बंद करने के लिए कहा । संता खिडकी के पास गया और खिडकी को नीचे धकेलने लगा लेकिन खिडकी बंद नही हुई । तभी अचानक एक बूढा जो सामनेकी सीट पर बैठा था, खिडकी के पास आया और एक झटके मे ही खिडकी को बंदकरते हुए संता से बोला, “बेटा कुछ खा लिया करो” थोडी देर बाद संता की बीवी संता से बोली, मुझे गर्मी लग रही है वो खिडकी खोल दो । संता खिडकी के पास गया और खिडकी खोलने का प्रयास किया लेकिन इस बार भी संता असफल रहा । तभी वही बुढा उठा और एक झटके मे खिडकी खोलते हुए वही बात दोहराई, “बेटा कुछ खा लिया करो” संता को इस बात से शर्म महसुस हुई और उसने बदला लेने की सोची । संता उठा और ट्रेन रुकने वाली चैन को पकडकर ऐसे हाव भाव करने लगा कि मानो वह चैन को खीँचना चाहता हो । तभी वही बूढा उठा और झट से चैन को खींच दिया और वही बात बोला, “बेटा कुछ खा लिया कर” . ट्रेन रुक गई और टीटीई ने बिना कारण चैन खींचने पर बुढे को पकड लिया । जब टीटीई बुढे को पकडकर ले जा रहा था तो बूढा गुस्से मे संता की और देखने लगा । तभी संता मुस्कुराते हुए बोला, “ताऊ जी थोडा कम खाया करो” 😀 ..open

संतो (संता की बीवी) – सुनो जी, जब हमारी नयी नयी शादी हुई थी, तो जब मैं खाना बना कर लाती थी तो तुम खुद कम खाते थे, मुझे ज्यादा खिलाते थे। संता – तो ? संतो – तो अब ऐसा क्यों नहीं करते ? संता – क्यूंकि अब तुम अच्छा खाना बनाना सीख गयी हो…. 😀 ..open
संता केले के छिलके से फिसल कर गिर गया। आगे चला तो दूसरे छिलके से फिसल कर गिर गया। थोड़ा और आगे चला तो उसे तीसरा छिलका दिख गया। संता बोला- धत् तेरे की, अब फिर से गिरना पड़ेगा .. ! ..open
संता और बंता दोनों भाई एक ही क्लास में पढ़ते थे। अध्यापिका: तुम दोनों ने अपने पापा का नाम अलग-अलग क्यों लिखा? संता: मैडम फिर आप कहोगे नक़ल मारी है, इसीलिए। ..open

संता टीचर - जब बिजली कड़कती है तो चमक पहले दिखाई देती है और आवाज बाद में सुनाई देती है … क्यों ? . . . बंता स्टूडेंट - क्योंकि हमारी आँखें आगे हैं और कान पीछे … !!!🙃🙃🙃🙃😘😘😘😘😂😂😂😂 ..open
संता (एयर होस्टेस से): आपकी शक्ल मेरी बीवी से मिलती है.. एयर होस्टेस ने ज़ोरदार थप्पड़ संता के मुँह पर मारा.. संता: कमाल है, आदत भी वही है!! 😀 ..open
संता सिंह अपनी गर्भवती बीवी को हॉस्पीटल ले गया और नर्स से बोला; अगर लडका हो तो कहना कि टमाटर हुआ है.. और अगर लडकी हो तो कहना प्याज हुयी है..! इत्तेफाक से लडका लडकी दोनों जुडवा हो जाते हैं… और नर्स कन्फ्यूजन में बाहर आयी और बोली….. सर बधाई हो.. “सलाद” हुआ है..!! ..open

संता ( पेट्रॉल पंप पर ) : अरे भाई , जरा एक रुपए का पेट्रॉल डाल दो। सेल्समैन : भाई , इतना पेट्रॉल डलवाकर जाना कहां है ? संता : अरे यार, कहीं नहीं जाना हम तो ऐसे ही पैसे उड़ाते रहते हैं..!! ..open
संता, डॉक्टर से: जब मैं सोता हूँ तो सपने में बन्दर फुटबॉल खेलते हैं । डॉक्टर: कोई दिक्कत नहीं, ये गोली रात को सोने से पहले खा लेना । संता: कल से खाऊंगा, आज तो फाइनल हैं ..open
खतरनाक जोक पत्नी को एक थप्पड मारने की सजा १००० रुपये जज साहब ने सुनाई.. तब संता ने जज को पुछा :- “दुसरा एक थप्पड मार दु..?? जज गुस्से से :- क्यो..?? संता :- क्योंकि छुट्टा नहीं है मेरे पास २००० रुपये का नोट है। ..open

संता के घर उसका विदेशी दोस्त आया और दरवाजे पर नीबू मिर्ची लटके देख चकराया और पूछा: ये क्या है? संता: ये एंटी वायरस है। मेड इन इंडिया !! ..open
संता एक माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में interview देने गया, इंटरव्यूकर्ताः Java के चार version बताइये, संताः मर जावा, मिट जावा, लुट जावा, और सद्दके जावा । इंटरव्यूकर्ताः शबाश, अब सीधा घर जावा । ..open
पल्स पोलिओ टीम घर आयी… संता (बीबी से): बंदूक और कारतुस कहाँ हैं…?? टीम भागी, पीछे से संता ने आवाज दी, रुको ओये रुको ये हमारे बच्चो के नाम हैं.!! 😀 ..open

टीचर: अगर अपना कैरेक्टर सुधारना चाहते हो तो अपनी टीचर को मां समझो…. संता: मैडम इससे तो हमारे पापा का कैरेक्टर खराब होगा….!! ..open
बैंक मैनेजर: कैश खत्म हो गया है कल आना संता: लेकिन मुझे मेरे पैसे अभी चाहिये मैनेजर: देखिये आप गुस्सा मत करिये, शांति से बात कीजिये.. संता: ठीक है बुलाओ शांति को, आज उसी से बात करूँगा ! ..open
संता :- आज फिर मुझे आलिया भट्ट को किस करने को दिल कर रहा है । बंता:- क्या ?????? तुम आलिया को पहले किस कर चुके हो? संता:- नहीं, एक बार पहले भी दिल किया था ! 😀 ..open

संता: आज इतनी ठंड क्यों है? बंता: सूरज नही निकला ना संता: क्यों नही निकला? बंता: उसकी मम्मी ने नही निकलने दिया। बोली कि ठंड में कहाँ जायेगा, पड़ा रह कम्बल में, फालतू की आवारागर्दी करेगा। ..open
अध्यापक: वाक्य को अंग्रेजी में ट्रांसलेट करो ‘वसंत ने मुझे मुक्का मारा’ संता: ‘वसन्तपंचमी’..!” ..open

Did you find this page helpful? X